लैलात अल-क़द्र (ताकत की रात)

जानकारी फैलाइये

जून ०३, २०१९

सभी उम्र के दो मिलियन से अधिक उपासक रविवार की शाम को मक्का की हरम अल-मस्जिद (ग्रैंड मस्जिद) में शाम की नमाज़ और तरावीह की नमाज़ अदा करने के लिए हज़रत लैलात अल-क़द्र (“ताकत की रात”) पर जमा हुए। मुसलमानों का मानना है कि रमज़ान के अंतिम दस दिनों में से एक लैलात अल-क़द्र, वह रात है जब पैगंबर मुहम्मद को कुरान के पहले छंद का पता चला था। (बशीर सालेह द्वारा एएन तस्वीरें)

यह आलेख पहली बार अरब न्यूज़ में प्रकाशित हुआ था

यदि आप इस वेबसाइट के अधिक रोचक समाचार या वीडियो चाहते हैं तो इस लिंक पर क्लिक करें अरब न्यूज़ होम

am

 


जानकारी फैलाइये